अपना वोट देकर विकास की गति को निरंतरता दें

अपना वोट देकर विकास की गति को निरंतरता दें
लोकतंत्र के महायज्ञ का पावन दिन है। आपका दिया एक वोट प्रदेश के आने वाले 5 साल का भविष्य तय करेगा! प्रदेश में किस पार्टी सरकार रहेगी, इस बात निर्णय आपका यही वोट तय करेगा। अपने इस वोट के महत्व को पहचानिए! इस लोकतांत्रिक कार्रवाई में सभी को बढ़-चढ़कर हिस्सा लेना चाहिए। मतदान करना हर भारतीय नागरिक का लोकतांत्रिक अधिकार है, कोशिश की जाना चाहिए कि हर स्थिति में इसका उपयोग हो! लोकतंत्र प्रति सजग और जागरूक लोग इसमें अहम भूमिका अदा कर सकते हैं। उन्हें ऐसे लोगों को मताधिकार के लिए प्रोत्साहित करना चाहिए, जो चुनाव वाले दिन वोट डालने के बजाए घरों में रहना या मौज-मस्ती पसंद करते हैं। बेहतर होगा कि लोग अपने घरों से निकलकर मताधिकार का प्रयोग करेंगे, तभी अच्छे जनप्रतिनिधि चुनाव जीतकर विधानसभा में पहुंचेंगे। मतदाताओं के जागरूक होने पर ही देश में एक अच्छी सरकार बनेगी, प्रदेश के विकास को आगे बढ़ाने के लिए इसकी जरूरत भी है। इस सत्य को भी स्वीकारा जाए कि मतदान नहीं करने वाले लोग बनने वाली सरकार पर कोई आरोप, प्रत्यारोप भी नहीं लगा सकते। क्योंकि, चुनी हुई सरकार में उनकी हिस्सेदारी जो नहीं थी। युवा लोग अपने आसपास के क्षेत्रों में इस बात का बीड़ा उठाएं कि कोई भी मतदान से वंचित न हो!
प्रदेश के मतदाता 28 नवंबर को मतदान तो करें ही, इस बात का भी ध्यान रखें कि आपका वोट सही उम्मीदवार और सही पार्टी चुने! क्योंकि, आपका सही फैसला ही प्रदेश और देश में विकास की धारा को गति देगा! मतदान से पहले अपने मन-मस्तिष्क में यह विचार अवश्य कर लें कि आपको निरंतर विकास करने वाली सरकार चाहिए या प्रदेश को बर्बाद करने वाली पार्टी की सरकार? भावनात्मक अपीलों से प्रभावित होकर आपको ऐसा कोई फैसला नहीं करना है, जिस पर बाद में आपको अफ़सोस हो! क्योंकि, विकास एक निरंतर चलने वाली प्रक्रिया है, जिसके लिए लम्बा समय और कठिन श्रम लगता है। बीते डेढ़ दशकों में प्रदेश का चेहरा जिस तरह बदला है, वो किसी से छुपा नहीं है। सरकार ने लोगों की मूलभूत जरूरतें पूरी करने की हर हरसंभव कोशिश की है। सड़क, बिजली, पानी, सबको भोजन और सबको छत देने के लिए कई योजनाएं बनाई और क्रियांवित की गईं! मध्यप्रदेश को बीमारू राज्य की फेहरिस्त से उबारकर विकास की धारा में ले आना आसान चुनौती नहीं था, पर ये चमत्कार भी हुआ। आज मध्यप्रदेश हर क्षेत्र में विकास कर रहा है। लेकिन, इस विकास का जारी रहना बहुत जरुरी है! यदि विकास पहिया धीमा हो गया या थम गया तो उसका फिर गति पकड़ना मुश्किल होगा! ऐसे कई अनुत्तरित सवालों का एक ही जवाब है कि मध्यप्रदेश में उसी पार्टी की सरकार को फिर मौका दें, जो विकास के प्रति संकल्पित है।

Comments

comments